Home / Others / एडमिन साहब सावधान ! खानी पड़ सकती है हवालात की हवा

एडमिन साहब सावधान ! खानी पड़ सकती है हवालात की हवा

आज का दौर है सोशल मीडिया का,खास कर युवा वर्ग में फेसबुक,ट्विटर,व्हाट्सएप्प, इंस्टाग्राम जैसे एप्स के लिए गजब की दीवानगी है।वैसे तो इन ऐप्स ने लोगों की जिंदगी काफी आसान कर दी है,उन्हें पूरी दुनिया के करीब ला दिया है।लेकिन इसी मंच का उपयोग अकसर असामाजिक तत्व गलत इरादे से भी करते हैं।वो इन सोशल साइट्स पर ऐसी भ्रामक और गलत बातें फैलाते हैं,जिससे समाज में तनाव होता है।आम लोग भी इन ठगों की बातों में आ जाते हैं और बिना सोचे समझे इस तरह की चीजों को फैलाने लगते हैं,जिससे की समाज में तनाव की स्थिति बनती है ,और ये असामाजिक तत्व ऐसा ही चाहते हैं,ताकि वो इसपर अपनी राजनितिक रोटियां सेक सकें।कई बार इस तरह की खबरों ने दंगे भड़काये,किसी विशेष राज्य के विद्यार्थियों को पूरा शहर खाली करना पड़ गया।

इन सब से निपटने के लिए झारखण्ड की उपराजधानी दुमका जिला प्रशासन ने एक अनोखी एडवाइजरी जारी की है।ये एडवाइजरी है व्हाट्सएप्प सहित अन्य प्लेटफार्म के ग्रुप एडमिन के लिए।

दुमका प्रशासन ने सभी ग्रुप एडमिन को आगाह किया है कि :”-

1.ग्रुप एडमिन वही बनें जो अपने आप को यह जिम्मेवारी निभाने में समर्थ समझें।
2.ग्रुप में वैसे ही लोगों को जोड़ें जिन्हें वो निजी तौर पर ,जानते हों।
3.इसके अलावा अगर कोई सदस्य कोई भ्रामक जानकारी शेयर करता है तो उसका तुरन्त खण्डन करें और उसे ग्रुप से बाहर निकालें।
4.जो पोस्ट सामाजिक समरसता को नुकसान पहुंचाए वैसे पोस्ट के बारे में सम्बंधित थाना को भी सुचना दी जाये।
5.अगर एडमिन ऐसे मुद्दों पर कार्रवाई नहीं करता है तो उसे भी इस अपराध का दोषी माना जायेगा।

fb-post-1ऐसे सभी दोषियों के खिलाफ आईटी एक्ट/साइबर क्राइम तथा आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई कि जायेगी ।
हालाँकि कई लोगों ने इसका विरोध किया है और कहा कि ये बोलने की आजादी का हनन है।इसपर पब्लिक रिलेशन डिपार्टमेंट ,दुमका के असिस्टेंट डायरेक्टर अजय नाथ झा का कहना है कि आज सोशल मीडिया का दायरा बहुत बढ़ गया है ,इसलिये लोगो को अपनी जिम्मेदारी भी समझनी चाहिए की बिना ठोस जानकारी के वो कोई भी भ्रामक तथ्यों का प्रचार न करें।ये किसी से भी बोलने की आजादी नहिं छिनता है,बल्कि सभी से जिम्मेदार होने की अपील करता है।जिला प्रशासन ने बताया कि इस प्रयोग को प्रशासन ने इसी साल की अप्रील महीने में शुरू किया था,उसके बाद इसको जनता का अच्छा सपोर्ट मिला।जिला प्रशासन ने इसका इस्तेमाल दुर्गा पूजा और मोहर्रम के दौरान भी किया।और क्षेत्र में शांति व्यवस्था बरकरार रही।

Comments

About Narender Singh

mm
Narendra Singh write about the entertainment section at thenachiketa.com

Check Also

1

नम आँखों से ‘अम्मा’ को अंतिम विदाई देने उमड़ा पूरा तमिलनाड़ु, देखें लाइव अपडेट !

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के निधन के बाद पूरा देश गम में डूब हुआ …

Advertisment ad adsense adlogger