Home / Others / 500 और 1000 के नोट न चलने पर आप क्या कर सकते हैं ? जरूर पढ़ें !

500 और 1000 के नोट न चलने पर आप क्या कर सकते हैं ? जरूर पढ़ें !

जी, हाँ.. आज 500-1000 के नोटों के बंद होने की खबर के चलते बाजार ही नहीं पूरे देश में सरगर्मी बनी रही।किसी की बात क्या करूँ मुझे ही इस फ़िक्र में पूरा दिन गुजरना पड़ा कि वॉलेट के 500 के नोट को कैसे बदलना है 100 या अन्य में। पूरा दिन वॉलेट में पड़े 500 रुपये के नोट की फिक्र सताती रही। अंततः रात में एक मित्र ने एक 500 के नोट का निपटारा करवा ही दिया। इसी के चलते इस विषय पर लिखने की वजह इस बार मैं ख़ुद बना।

आपने इस बड़े और अजीब फैसले को लेकर बहुत सारी बातें सुन और जान रहे होंगे.. इसके वजह के बारे में.. इसके फायदे के बारे में.. इसके नुकसान के बारे में… और भी बातें सामने आएँगी आपके… अभी तो पिक्चर शुरू हुई है।

लोग अलग अलग प्लेटफार्म से आकर, समाज, समूह, पार्टी से आकर आपको ढेर सरे फैक्ट्स और फिगर्स बतायेंगे… पर इनमें घनचक्कर हो जाने और परेशान होने के बहुत ही ज्यादा आसार है। अतः आप सब से एक साथ अनुरोध है कि बहुत से लोग हैं.. हो सकता है… जिन्हें इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है, उनका कोई बैंक एकाउंट ही न हो.. वो किसी खास परेशानी या दिक्कत में हो… या फिर मेरी तरह कोई आपको विशेष परिस्थिति में मिले तो… परस्पर सहयोग और सामंजस्य का भाव बनाईए… पूरी तरह से लचीला और मदद करने वाला रवैया अख्तियार करें।

वरना हो सकता है कि.. उनका बहुत ही ज्यादा नुकसान हो जाये… या सब कुछ लुट जाये..
जैसे एक उदाहरण लें तो जिस किसान ने अपनी बेटी की शादी के लिए खेत बेचकर पूंजी जमा की है और उसके पास किसी भी बैंक में खता नहीं है, तो उसके पास संभवतः 500-1000 के ही नोट होंगे… तो उसे कैसे क्या करना है… आप का भी फर्ज है मदद करने का.. सही सलाह देने का.. वरना सिर्फ उसके हजारों-लाखों नहीं लूटेंगे.. जबकि एक तरफ उसकी बेटी की शादी और दूसरी तरफ उसकी जिंदगी भर की मेहनत, कमाई और बचत.. सब मिटटी में मिल जायेगा।

अब सीधे बात करते हैं.. इस समस्या से निपटने के उपायों के बारे में..
आपने बहुत ही बातें सुनी होंगी तो बिंदुवार उनपर नजर डालते हैं-

1. घबराइए मत। धैर्य रखिए। सहयोग एवम् सलाहकार का काम भी करिए।
2. जल्दबाजी में बैंक में पैसे जमा न करें। धीरज रखें.. और इंतजार कर सकते हैं.. कुछ और सूचनाएं आ सकती है।
3. अपने साथ एक आईडी कार्ड जरूर रखें.. चाहे किसी भी कार्य के लिए जायें।
4. सभी निवासियों को उनके बैंक के द्वारा खातों में 500 और 1000 रुपये के अपने मौजूदा नकदी संतुलन जमा करने के लिए 30 दिसंबर 2016 तक का विकल्प है।
5. 100 रुपये, 50 रुपये, 20 रुपये, 10 रुपये, 5 रुपये, 2 रुपये और 1 रूपया का नोट और सभी सिक्के नियमित हैं और लेन देन के लिए उपयोग हो सकते हैं।

6. ATM से रूपए निकालते समय नोटों का और धनराशी की मात्र पे ध्यान रखें।
7. अस्पतालों और दवा की दुकान, ट्रेन टिकट बुकिंग और एयरलाइन टिकट बुकिंग की तरह आपातकाल के समय, पेट्रोल पंप 11 वीं नवंबर तक पुराने नोटों को स्वीकार कर सकता है। पर जानबूझकर उन्हें न परेशान करने के लिए परेशान हों।
8. ध्यान दें.. ऑनलाइन, कार्ड, चेक या किसी अन्य प्लास्टिक मनी के लेन-देन में कोई बदलाव नहीं।
9. 1,90,000/- रुपये से अधिक जमा करने के लिए नहीं की कोशिश करें क्यूँकि 2 लाख से ऊपर नकद जमा बैंक द्वारा सूचना आयकर विभाग को बैंक द्वारा सूचना दी जानी है।
10. राउंड फिगर्स में रुपये न जमा करें; जैसे- .5 लाख या किसी एक या 1.8 लाख। लेकिन नकद रुपये अजीब तरह के आंकड़ों में जमा करें; जैसे- 45,670 या 96,480।
11. अपने पिछले रिटर्न और चालू वर्ष स्थिति का विश्लेषण करें और उसके अनुसार अपने हाथ में नकदी का अनुमान रखें।
12. एक पेशेवर से परामर्श जरूर करना चाहिए.. यदि आप संदेह की परिस्थिति में जरा सा भी हैं।
13. कयास लगाए जा रहे हैं कि 31 मार्च, 2017 तक सीधे रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) में आईडी कार्ड दिखा के 500-1000 के नोट बदले या जमा किये जा सकेंगे.. पर इसके भरोसे न बैठें।

प्रधानमंत्री द्वारा उठाए गए साहसिक कदम का एकसाथ आगे बढ़कर स्वागत करिए.. और मतभेद के बगैर एकजुट हों, इसमें सहयोग करें… बजाय किसी एक व्यक्ति, एक राजनीतिक पार्टी के लिए.. बल्कि राष्ट्र के लिए।

आप परिणाम, इस कदम कि.. परिणाम, कारणों के परिणाम की समीक्षा कर सकते हैं .. लेकिन ध्यान रखना है कि अपने विवरण किसी भी प्रकार दुरुपयोग नहीं किया जा सकें किसी के भी द्वारा.. मतलब है किसी के भी द्वारा। यह राष्ट्र की बात है।

मैं इसमें कोई खास अच्छा नहीं हूँ, इसलिए किसी भी प्रकार का व्याख्यान अभी दूँगा।

बाकी .. मुद्दों और बिन्दुओं .. बात करेंगे और बाद में चर्चा करेंगे। जल्द ही फिर मिलेंगे।

सदैव आपका प्रशंसक,
अधिकार श्रीवास्तव।
Fb: /adhikar7aspires.
Twitter: @adhikaraspires.

Comments

About Ajay Singh

mm
Ajay Singh is an Entrepreneur who write about Sports in thenachiketa.

Check Also

मोदी जी की रैली में विरोध करने पर वृद्ध महिला का सर फोड़ा |

  प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान पुलिस का गैरजिम्मेदाराना रवैया सामने आया है मीडिया में …

Advertisment ad adsense adlogger