Home / Political / रूपाणि ने लिया UTURN,केजरीवाल की रैली में नही बंद होगा इन्टरनेट

रूपाणि ने लिया UTURN,केजरीवाल की रैली में नही बंद होगा इन्टरनेट

सोशल मीडिया पर हुए कड़े विरोध के बाद विजय रूपाणि ने 16 अक्टूबर को इन्टरनेट बैन के फैसले को वापिस ले लिया है !लेकिन इससे आप गुजरात सोशल मीडिया टीम से रूपाणि का डर जाहिर हो गया है ! अभी कुछ दिन पहले जब गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणि ने #AskVijayRupani से गुजरात के लोगों से सवाल पूछने को कहा था लेकिन आप गुजरात की सोशल मीडिया टीम ने रूपाणि को बुरी तरह ट्रोल कर दिया था जिससे वह कार्यक्रम बुरी तरफ फ्लॉप हो गया था !

अब 16 अक्टूबर को केजरीवाल की गुजरात में रैली है और दरअसल गुजरात सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को एक निर्देश जारी करते हुए कहा था 16 अक्टूबर को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक पूरे राज्य में इंटरनेट सेवाएं बन्द रहेगी।इसे रूपाणि का आप गुजरात सोशल मीडिया टीम के डर से जोड़कर ही देखा जा सकता है ! इसके लिये जो वजह बताई गयी उसने कई लोगों को अचरज में डाल दिया।

दरअसल सरकार ने बताया कि 16 अक्टूबर को राज्य में होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं को कदाचार मुक्त सम्पन्न कराने के लिए इंटरनेट सेवाएं बन्द करने का फैसला किया है।क्योंकि पहले भी कई परीक्षाओं में मोबाइल इंटरनेट का प्रयोग करके कई बार प्रश्नपत्र लिक किये गए हैं।ये कारण अपने आप में अनोखा है क्योंकि एक ओर जहां आप ये कह सकते हैं कि सरकार सही तरीके से परीक्षा कराने को लेकर गम्भीर है वहीं दूसरी ओर सरकार की कार्यक्षमता पे भी सवाल उठते हैं,जहां सरकार को सब पता होते हुए भी ऐसे मुन्नाभाइयों को पकड़ नहीं पा रही है।कुछ लोगों ने इस तरह दो दिन पहले इस बारे में जानकारी देने पर भी सवाल उठाये हैं,उनका कहना है कि नकलची कोई दूसरी व्यवस्था कर लेंगे ,क्योंकि सरकार ने उन्हें पहले ही जानकारी दे दी है।

शायद ये देश में पहली बार हो रहा है कि परीक्षा में चोरी रोकने के लिए किसी राज्य में इंटरनेट बंद हो रहा है,अब तक ऐसा कानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति में ही होता था।अब सवाल आता है इसमें राजनीती का,आम आदमी पार्टी शुरू से ही सोशल मीडिया पर बहुत मजबूत रही है,और केजरीवाल की इस रैली की तैयारियां भी सोशल मीडिया पर जोर शोर से हो रही है,ऐसे में जिस दिन केजरीवाल की रैली है उस दिन भी पार्टी का सोशल मीडिया पर बड़े स्तर का कैंपेन निर्धारित है।अब अगर पुरे गुजरात में इन्टरनेट बैन रहेगा तो जाहिर है पार्टी की सोशल मीडिया विंग को बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता था ।

पार्टी के नेताओं का कहना है कि गुजरात की विजय रूपानी सरकार मोदी और शाह के निर्देश पर ऐसा कर रही है।क्योंकि वी केजरीवाल की गुजरात में बढ़ती लोकप्रियता से डर गई है और अपनी हार सामने देख कर हर हथकंडे अपनाने पर तुली है। अरविन्द केजरीवाल ने पाटीदार नेताओं के बयान को आधार बनाकर कहा कि बीजेपी उनकी रैली में अपने कार्यकर्ताओं से हंगामा करा सकती है,और इसका इल्जाम पाटीदार नेताओं पर डाल सकती है।

पार्टी नेताओं का कहना है कि गुजरात सरकार कोई भी हथकंडे क्यों न अपना ले केजरीवाल की रैली भी सफल होगी और अगले साल के चुनाव में उसकी सरकार भी बनेगी।इस मुद्दे पर पार्टी के डॉ कुमार विश्वास,मनीष सिसोदिया सहित कई नेताओं ने अपनी राय ट्विटर के माध्यम से दी ,पेश है उनमें से कुछ ट्वीट्स

https://twitter.com/DrKumarVishwas/status/786543254279888905

हालाकिं विजय रूपाणि ने इन्टरनेट बंद न करने का फैसला तो ले लिया लेकिन इससे गुजरात बीजेपी और विजय रूपाणि की किरकरी तो हो ही गयी !⁠⁠⁠⁠

Comments

About Narender Singh

mm
Narendra Singh write about the entertainment section at thenachiketa.com

Check Also

img-20161117-wa0022

केजरीवाल और ममता ने किस बात पर दी मोदी को अंतिम चेतावनी!जानें पूरी खबर।

नोटबन्दी के बाद जहाँ एक तरफ देश बैंक के बाहर लाइन में लगा है तो …

Advertisment ad adsense adlogger