Home / Political / ‘हनी-ट्रैप’ में फंसे वरुण गांधी,सोशल मीडिया पर तस्वीरें हुई वायरल

‘हनी-ट्रैप’ में फंसे वरुण गांधी,सोशल मीडिया पर तस्वीरें हुई वायरल

a527bcda-021d-46fb-a399-ede477d1db93

नेताओं के निजी-नाजायज़ संबंधों का उजागर होना कोई नई बात नहीं है। भारत ही नहीं दुनिया भर में ये आम बात हो चुकी है। अमेरिका के राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के ऊपर महिला उत्पीड़न का मामला रहा हो या अमेरिका के ही बड़े अधिकारी जिन्हें रूस की ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए द्वारा ‘हनी-ट्रैप’ में फंसाया गया। भारत में ऐसे ही मामलों में एन डी तिवारी सबसे प्रसिद्ध और गणमान्य रहे हैं। कुछ हफ़्तों पहले ही मीडिया में आम आदमी पार्टी के दिल्ली में मंत्री रहे संदीप कुमार का भी मामला मीडिया में छाया रहा।

इस बार बारी है ‘हनी-ट्रैप’ में फंसे नेहरू-गांधी कुल के ‘हनी’ वरुण गांधी की। उत्तरप्रदेश के सुल्तानपुर से 2014 में भारी अंतर से जीते सांसद और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के सुपुत्र वरुण गांधी जी इस बार के यूपी विधानसभा चुनावों में खुद को बतौर मुख्यमंत्री पेश कर रहे थे। गाहे-बगाहे भाजपा के बड़े नेताओं के सामने अपने समर्थकों से नारे भी लगवाते रहे हैं।

इनका खेल बनने से पहले ही बिगड़ गया। ये साहब देश की रक्षा सलाहकार समिति के सदस्य भी हैं। जिसके कारण इनको विदेशी महिला द्वारा अपने माया-जाल में फंसाकर देश की रक्षा सम्बन्धी जानकारियां निकलवा लेने की बात सामने आ रही है। इसको लेकर कई तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर छायी हुई हैं। उनमें कितनी सत्यता है ये तो समय ही बताएगा। फिलहाल, लोग इसको ही सत्य मानकर भाजपा पर चरित्रहीनता का आरोप लगा रहे हैं। जो भाजपाई चन्द हफ़्तों पहले तक ‘राशन-कार्ड’ पर जोक शेयर कर रहे थे, अब विरोधी उनका मजाक बना रहे हैं। इनको ये ध्यान रहना चाहिए था कि राजनीति में ‘सब दिन सावन’ नहीं रहता है।

वरुण गांधी जी पर ये खुलासा ‘स्वराज इंडिया’ पार्टी के नेता योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण ने प्रेस कांफ्रेंस कर किया है। अब वरुण गांधी कह रहे हैं कि वो योगेन्द्र और प्रशांत पर मानहानि का मुकदमा करेंगे। मुकदमेबाजी अपनी जगह है, पर यूपी चुनाव में पहले से ही भाजपा वरुण गांधी को भाव नहीं दे रही थी, और अब तो उन्हें एक कारण भी मिल गया है।

अब ये किसी को नहीं पता है कि योगेन्द्र और प्रशांत के पास ये सबूत कहाँ से आये जबकि ये सबूत अमेरिका के एक वकील ने पत्र लिखकर पीएमओ को भेजे थे। ये सबूत पूरे देश में केवल एक ऐसी पार्टी के नेताओं तक पहुंचे जो अपने अस्तित्व को साबित करने की जुगत में है।

इस मामले में केवल एक व्यक्ति ही नंगा नहीं हुआ है बल्कि पूरा मीडिया भी साथ-साथ नग्नता के साथ मुद्दे को छिपाए बैठा है। इस मुद्दे पर मीडिया का मौन साफ़ बताता है कि डण्डे का डर उन्हें भी है और कहीं सर्जिकल स्ट्राइक का फायदा उनके साहब के लिए घाटे में ना बदल जाए। ऐसी कोई भी बात ज्यादा दिनों तक दबकर रह नहीं सकी है, अब देखते हैं कि ये मुद्दा कब उठता है।

Comments

About Jitender Yadav

Check Also

नरेंदर मोदी के 56″ के सीने के लिए दी 56″ की ब्रा – कहा या तो बदला लो नहीं तो ब्रा पहन लो

फतेहाबाद(Haryana) :भारतीय सैनिकों पर लगातार बढ़ रहे हमलों, सैनिकों की नृशंस हत्याओं के मुद्दे पर …

Advertisment ad adsense adlogger