Home / Others / जानिए पुरे देश में कितनी जगह हो चुकी हैं भोपाल जैसी घटनाएं

जानिए पुरे देश में कितनी जगह हो चुकी हैं भोपाल जैसी घटनाएं

मध्य प्रदेश की भोपाल जेल से प्रतिबंधित संगठन सिमी के 8 सदस्यों द्वारा जेल से भाग जाने की घटना ने एक बार फिरसे भारतीय जेलों की सुरक्षा व्यवस्था की पोल-खोल दी है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की हर वर्ष प्रकाशित होने वाली ‘प्रिजन स्टेटिस्टिक्स ऑफ़ इंडिया’ (PSI) रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2011 से 15 के बीच देश में जेल से भाग जाने की कुल 83 घटनाएं हुईं।

जेल से भाग जाने की सबसे अधिक घटनाएं राजस्थान में हुईं। देशभर की में घटीं कुल 83 में से 41 घटनाएं अकेले राजस्थान में घटीं। वर्ष 2011 में जेल तोड़ने की सबसे अधिक 28 घटनाएं घटीं, जबकि वर्ष 2013 में सबसे कम 5 घटनाएँ दर्ज हुईं। इसी प्रकार से वर्ष 2012 में 8, वर्ष 2014 में 16 और वर्ष 2015 में 26 घटनाएं सामने आयीं।

राज्यवार देखा जाए तो राजस्थान में सबसे ज्यादा 41 जेल तोड़ने की घटनाएं सामने आयीं। वर्ष 2011 में दर्ज हुई 28 घटनाओं में से 27 और वर्ष 2015 की 26 घटनाओं में से 12 घटनाएं राजस्थान में हुईं। 2011-15 के पांच वर्ष के अंतराल में कुल 14 घटनाएं उत्तर प्रदेश में हुईं, जिसमें से 13 घटनाएं वर्ष 2014-15 के बीच दर्ज हुईं। पांच वर्षों के दौरान मध्य प्रदेश में 5, पंजाब में 4, हरियाणा में 2, गुजरात में 1 और दिल्ली में 1 जेल से भागने की घटनाएं सामने आयीं।

इसके अतिरिक्त जेल के अंदर ही मारपीट और झगडे की कुल 836 घटनाएं वर्ष 2011-15 के बीच प्रकाश में आयीं। पांच वर्षों में सबसे कम 31 मारपीट की घटनाएं 2011 में हुईं, तो सबसे अधिक 255 घटनाएं 2014 में हुईं। शेष घटनाओं में से वर्ष 2012 में 160, वर्ष 2013 में 203 और वर्ष 2015 में 187 जेल के अंदर हुई मारपीट की घटनाएं दर्ज हुईं।

कुल 836 में से 501 मारपीट की घटनाएं मात्र दिल्ली में हुईं, जो कि कुल घटी घटनाओं का लगभग 60% है। जेल तोड़ने की घटनाओं में अव्वल रहा राजस्थान, यहां 82 घटनाओं के साथ दूसरे पायदान पर खिसकता नज़र आया। शेष सभी राज्यों में से केवल बंगाल और हरियाणा ही ऐसे राज्य हैं जहाँ 50 से ज्यादा मारपीट की घटनाएं सामने आयीं।

स्त्रोत : National Crime Record Bureau (NCRB)

Comments

About Jitender Yadav

Check Also

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने किया ऐसा काम जिसे जानकार विरोधी भी उनकी तारीफ करेंगे

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कुछ ऐसा काम किया जिसे जानकार आप …

Advertisment ad adsense adlogger