Home / Others / बड़ा खुलासा : इस छोटी सी लापरवाही ने लेली 100 जानें, सामने आई वजह !

बड़ा खुलासा : इस छोटी सी लापरवाही ने लेली 100 जानें, सामने आई वजह !

Picture source - ANI
Picture source – ANI

कानपुर के पुखरायां में इंदौर-पटना एक्सप्रेस आज तड़के 3 बजे दुर्घटनग्रस्त हो गयी।दुर्घटना इतनी भयावह थी की इसमें 3 डिब्बे तो पूरी तरह बर्बाद हो गये।साथ ही करीब 11 डिब्बे पटरी से उतर गये।इस दुर्घटना में 100 से भी ज्यादा लोगों की जान चली गयी जबकि सैकड़ों घायल अस्पताल में भरती हैं जहां उनका इलाज चल रहा है।जैसे ही इतनी बड़ी रेल दुर्घटना की खबर आयी ,रेल महकमा हरकत में आया ,राहत बचाव के लिये रेलवे के साथ ही यूपी पुलिस,स्वास्थ्य विभाग और सेना भी मुस्तैदी से जुटी है।एक सवाल जो लोगों के मन में घूम रहा है वो है इस दुर्घटना के पीछे का कारण।लोग ये मांग कर रहे हैं कि इस हादसे के लिये जो भी जिम्मेदार हो उसके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाये।रेल मंत्रालय ने जाँच के आदेश भी दे दिये हैं,इस बीच एक ऐसी खबर आयी है जिसने रेल महकमे में हड़कम्प मचा दिया है।कुछ यात्रियों के अनुसार इस दुर्घटना में सबसे पहले ऐसी-1 कोच ही पटरी से उतरी उसके बाद बाकि बोगियां दुर्घटनाग्रस्त हुई।इस कोच में सवार लोगों ने झाँसी स्टेशन पहुंचने पर इस बोगी के तेज झटके के साथ चलने की शिकायत भी रेल अधिकारियों को की थी,लेकिन न तो स्टेशन मास्टर ने और न ही गार्ड ने उनकी बात पर ध्यान दिया और बिना किसी तरह की जाँच किये ट्रेन को आगे बढ़ा दिया।अगर उसी समय उस बोगी की जाँच हो जाती और उस बोगी की जगह दूसरी बोगी जोर दी जाती या कोई अन्य वैकल्पिक व्यवस्था कर दी जाती तो शायद इतनी बड़ी दुर्घटना नहीं होती और 100 से ज्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी नहीं पड़ती।यात्रियों का कहना है कि झाँसी पहुंचने से पहले ही ऐसी-1 बोगी अचानक जोर जोर से झटके खाने लगी और सामान्य से ज्यादा हिलने लगी,लोगों को किसी अनहोनी की आशंका हुई तो झाँसी पहुंचने पर लोगों ने इसकी शिकायत की,लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला।लोगों का कहना है कि जाँच से और बातें सामने आएँगी लेकिन फिलहाल जो बात सबसे प्रमुखता से कही जा सकती है वो यही है और फ़िलहाल तो हमें इस रेल हादसे का कारण रेल अधिकारियों की लापरवाही और अकर्मण्यता ही लगता है ।

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने घटना स्थल का दौरा किया।उधर केंद्र सरकार ने रेल हादसे में मृतक लोगों के करीबी परिजनों को 5 -5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है ,साथ ही गम्भीर रूप से घायल लोगों को 50 हजार और साधारण रूप से घायलों को 25 हजार मुआवजा देने की घोषणा की है।सरकार ने मुआवजे की घोषणा तो कर दी लेकिन सवाल ये उठता है कि जहाँ सरकार एक ओर बुलेट ट्रेन चलाने के सपने देख रही है तो वहीं दुसरी ओर हम अपनी आधारभूत व्यवस्था भी नहिं सुधार पा रहे हैं।जिन्होंने अपने करीबियों को खोया है उनके लिये इन पैसों का कोई महत्व नहीं ।

Comments

About Akshay Anand

mm
Akshay Anand write about the Political category at thenachiketa

Check Also

मोदी जी की रैली में विरोध करने पर वृद्ध महिला का सर फोड़ा |

  प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान पुलिस का गैरजिम्मेदाराना रवैया सामने आया है मीडिया में …

Advertisment ad adsense adlogger