Home / Others / जियो देगा 83 पैसे में 1 जीबी ब्रॉडबैंड इन्टरनेट!जानें और कौन कौन से हैं ऑफर!

जियो देगा 83 पैसे में 1 जीबी ब्रॉडबैंड इन्टरनेट!जानें और कौन कौन से हैं ऑफर!

मोबाइल इंटरनेट की दुनिया में रिलायंस जियो धूम मचाये हुए है,अभी अपने सभी ग्राहकों को 31 दिसम्बर तक फ्री इन्टरनेट,कॉल,मेसेज की सुविधा दे रही है।जिसके कारण पहले से बाजार में मौजूद कम्पनियों को काफी समस्या का सामना करना पर रहा है।अब जियो का अगला प्लान ब्रॉडबैंड बाजार में उतरने का है।
unnamed
रिलायंस जियो फाइबर इन्टरनेट के जरिये कम्पनी का उद्देश्य घर-घर तक ब्रॉडबैंड की सेवा पहुँचाने की है।इसके लिये अपने वेलकम ऑफर में कम्पनी जो प्लान लायी है उसके तहत आपको 1 जीबी ब्रॉडबैंड के लिये सिर्फ 83 पैसे खर्च करने होंगे।जी हां ये सच है।दरअसल जियो का 600 जीबी का प्लान 500 रुपये में है यानि की 1 जीबी 83 पैसे में,इस प्लान में आपको 15 एम बी /सेकंड की स्पीड मिलेगी।1000 रुपये के प्लान के साथ आपको 500 जीबी इन्टरनेट मिलेगा 25 एमबी /सेकंड की स्पीड के साथ यानि की 2 रूपये/जीबी की दर पे।इसके सिवा एक और प्लान है जिसमें आप 1000 रुपये में रोज 3.5 जीबी इन्टरनेट का लुत्फ़ उठा सकते हैं जिसमें स्पीड को कोई बाध्यता नहीं रहेगी।वो भी  30 दिनों के लिये।इसके अलावा 2000 रुपये में 1500 जीबी इन्टरनेट का लुत्फ़ आप उठा सकते हैं 50 एमबी /पर सेकंड की स्पीड पर।अगर आप के लिये गति ज्यादा मायने रखती है और आप उसके लिये पैसे खर्च करने को भी तैयार हैं तो आप 5500 रुपये में 300 जीबी का प्लान ले सकते हैं,जिसमें आपको स्पीड मिलेगी 600 एमबी/पर सेकंड की।
इन ऑफर्स का लाभ उठाने के लिये पहले आपको पहले एक जीयो गिगाफाइबर राऊटर लेना होगा जिसकी कीमत है 4000 से 6000 रुपये।कीमत थोड़ी ज्यादा तो जरूर है लेकिन ये इन्वेस्टमेंट आपको एक बार ही तो करना है।
ब्रॉडबैंड सर्विस देने वाली अधिकतर कंपनियों जैसे एयरटेल,बीएसएनएल को भी अब इसके मुकाबले के लिये तैयारी करनी होगी।खैर इस प्राइस वॉर में आखिरकर फायदा तो ग्राहकों को ही होता है।इसलिये आगे आगे देखिये होता है क्या ?

Comments

About Akshay Anand

mm
Akshay Anand write about the Political category at thenachiketa

Check Also

मोदी जी की रैली में विरोध करने पर वृद्ध महिला का सर फोड़ा |

  प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान पुलिस का गैरजिम्मेदाराना रवैया सामने आया है मीडिया में …

Advertisment ad adsense adlogger