Home / Political / जहाँ हुआ शाह का विरोध, वहीँ ललकारे केजरीवाल!

जहाँ हुआ शाह का विरोध, वहीँ ललकारे केजरीवाल!

 


आज सूरत की रैली से आम आदमी पार्टी संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने अपने गुजरात अभियान की शुरुआत कर दी है। अगले साल दिसंबर में होने वाले गुजरात चुनाव में आम आमदी पार्टी भी किस्मत आज़माने की तैयारी में है। इसके लिए पाटीदारों और दलितों के गठजोड़ के साथ अपनी ज़मीन तैयार करने में पार्टी कुछ हद तक सफल भी हुई है। पाटीदार अनामत आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने भी अरविन्द केजरीवाल को अपना समर्थन दिया है।


केजरीवाल की रैली में कुछ लोगों ने काले झंडे दिखाते हुए उनका विरोध किया, जिसके जवाब में केजरीवाल ने कहा कि राहुल गांधी की रैली में कोई विरोध करने नहीं आता है क्योंकी भाजपा-कांग्रेस मिले हुये हैं।
‘जय सरदार!’ के नारे के साथ शुरआत कर रैली को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि भाजपा सरकार ने पटेलों पर बहुत अत्याचार किये हैं। शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे पटेलों की पुलिस के हाथों हत्या करवाई गयी है। कई पाटीदार युवाओं के परिवारों से मिल चुके केजरीवाल ने कहा कि शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे युवाओं को पुलिस ने गोली मारकर हत्या कर दी। सरकार बनते ही दोषी लोगों को जेल के अंदर डाला जायेगा। 
अरविन्द केजरीवाल ने बताया कि उन्होंने दिल्ली में व्यापारियों को वैट और रेड से मुक्त किया, जिसके बाद से व्यापारी बहुत खुश हैं। इससे प्रभावित होकर पिछली बार जब गुजरात के व्यापारियों ने मिलने के लिए हॉल बुक किया तो व्यापारियों पर दबाव बनाकर हॉल की बुकिंग कैंसिल करवा दी गयी।


केजरीवाल ने कहा कि इस रैली की भी परमिशन सरकार नहीं दे रही थी, पर हाई कोर्ट की सहायता से ये परमिशन मिली। केजरीवाल ने अमित शाह को ‘जनरल डायर’ कहते हुए जनता से उनके दमनचक्र को तोड़ने का आवाह्न किया। उन्होंने दलितों पर हुए अत्याचार का मुद्दा उठाते हुए कहा कि सरकार के खिलाफ एकजुट होने के लिए दलित समाज को बधाई देता हूँ।
उन्होंने आरोप लगाया कि गुजरात में शराब बंदी कानून होने के बाद भी शराब की ‘होम-डिलीवरी’ हो रही है। हम इसे सख्ती से लागू करवाएंगे। उन्होंने भाजपा कांग्रेस की मिलीभगत होने का आरोप लगते हुए कहा कि भाजपा की सरकार में कांग्रेस के एक भी नेता को जेल नहीं हुई लेकिन आम आदमी पार्टी के विधायकों को रोज़ गिरफ्तार करते हैं, वो बात अलग है कि 24 घंटे में ही उन्हें छोड़ना पड़ता है। चुनाव से पहले कहते थे रोबर्ट वाड्रा को गिरफ्तार करेंगे पर नहीं किया। इससे सिद्ध होता है कि भाजपा वाले आम आदमी की ताकत से डरते हैं।
केजरीवाल ने गुजरात में फैले भरष्टाचार का मुद्दा उठाते हुए कहा कि गुजरात में रिश्वतखोरी एक आम बात है। आम आदमी पार्टी की सरकार बनते ही इसे रोका जायेगा। दिल्ली में किये गए अपने कामों को गिनवाते हुए उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने 5 फ्लाईओवर निर्माण में 350 रुपये बचा लिए और अस्पतालों और मोहल्ला क्लीनिकों के माध्यम से लोगों को घर से चन्द कदम की दूरी पर मुफ़्त इलाज की सुविधा उपलब्ध करवा दी। उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में उन्होंने जिस तरह बिजली हाफ और पानी माफ़ किया है उसी तरह गुजरात में भी करेंगे। दिल्ली में सबसे सस्ती बिजली है।
इसके साथ ही उन्होंने बताया कि उन्होंने दिल्ली में किसानों को 50,000 रुपये हेक्टेयर का मुआवज़ा दिया है और न्यूनतम मजदूरी 15000 रुपये की है। गुजरात में सरकार बनते ही यहाँ भी इसे लागू किया जायेगा। दिल्ली में किसी भी पुलिस या सेना के जवान के शहीद होने पर 1 करोड़ रुपये मुआवज़ा दिया जाता है जिसे गुजरात में भी लागू किया जायेगा। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगते हुए उसे हिंदुओं की पार्टी नहीं बल्कि सत्ता और पैसे के लालची लोगों की पार्टी बताया। img-20161016-wa0142
भीड़ देखकर गदगद अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि इस बार का गुजरात चुनाव चुनाव नहीं बल्कि क्रांति होगा। इस क्रांति के जरिये जनरल डायर को गुजरात से बाहर किया जायेगा। जनता से आह्वान करते हुए उन्होंने कहा की इस बार गुजरात में अडानी-अम्बानी की सरकार नहीं बल्कि आम आदमी की सरकार बनानी है।
रैली के साथ आगाज़ करते हुए अरविन्द केजरीवाल ने आधिकारिक रूप से अगले वर्ष होने वाले गुजरात के विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी गुजरात की सभी विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारेगी।

Comments

About Jitender Yadav

Check Also

नरेंदर मोदी के 56″ के सीने के लिए दी 56″ की ब्रा – कहा या तो बदला लो नहीं तो ब्रा पहन लो

फतेहाबाद(Haryana) :भारतीय सैनिकों पर लगातार बढ़ रहे हमलों, सैनिकों की नृशंस हत्याओं के मुद्दे पर …

Advertisment ad adsense adlogger