Home / Others / एम्बुलेंस होते हुए भी अस्पताल ने किया इनकार, गर्भवती पत्नी को रेहड़ी में लेकर पंहुचा पति

एम्बुलेंस होते हुए भी अस्पताल ने किया इनकार, गर्भवती पत्नी को रेहड़ी में लेकर पंहुचा पति

रेहड़ी से गर्भवति पत्नी को अस्पताल ले जाता पति

हम भले ही चाँद में बसने की बात करते हो लेकिन ज़मीन पर हकीकत कुछ और है, यह खबर है हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्रीं अनिल विज के गृह क्षेत्र अंबाला से जहाँ अस्पतालों की संवेंदनहीनता का नया मामला सामने आया है | देर रात कैंट सिविल अस्पताल में जनता की सेवा के खोखले दावों की हवा निकल गयी | करोड़ों रुपये खर्च करके जिस 102 नंबर का प्रचार किया जाता है और बताया जाता है की इस नंबर को डायल करने से तुरंत एम्बुलेंस आपकी सेवा में पहुचेगी, ऐसे दावे तब हवा हो गए जब मिल के पीछे रहने वाले संतराम को समय रहते हुए मदद नहीं मिली और उन्हें अपनी गर्भवती पत्नी को रेहड़ी में लेकर अस्पताल जाना पड़ा |

 

मिडिया की नज़र पड़ते ही अस्पताल के कर्मचारी पहुँच गए

संतराम का कहना है की उनकी पत्नी माला देवी को देर रात प्रसव पीड़ा हुई तो संतराम ने तकरीबन 11 बजे 102 नंबर पर तत्कालीन सहायता के लिए फ़ोन किया, वह से किसी ऑपरेटर ने फ़ोन पर जवाब दिया की एम्बुलेंस नहीं है, पत्नी प्रसव पीड़ा से कराह रही थी तो संतराम ने अपनी माँ और भाई को साथ में लिया और पत्नी को रेहड़ी में लिटाया और ताबड़तोड़ पैडल मारते हुए पसीने से तरबतर अस्पताल पहुंचा | जब संतराम अस्पताल पहुचा तो वहाँ उसे करीब तीन एम्बुलेंस खड़ी मिली और जैसे ही मीडिया की नज़र संतराम पर पड़ी तो अस्पताल के कर्मचारियों ने चुस्ती दिखाते हुए मालादेवी को रेहड़ी से उतारा और प्रसव केंद्र ले गए |

 

अस्पताल में खड़ी मिली एम्बुलेंस

ये खबर हम आपको इसलिए बता रहे है ताकि आपको पता चले की भारत सिर्फ वो भारत नही जहाँ आप रहते हैं यहाँ कालाहांडी जैसे इलाके भी हैं जहाँ चंद रुपयो के लिए बच्चों को बेंच दिया जाता है | आप बड़े बड़े फ्लाईओवर्स को देखकर ये सोचते हैं की देश कितना विकसित हो चुका है परंतु संभवतः आप ये भूल जाते हैं की उन्ही फ्लाईओवर्स के नीचे एक और भारत रहता है |

Comments

About Ajay Singh

mm
Ajay Singh is an Entrepreneur who write about Sports in thenachiketa.

Check Also

1

नम आँखों से ‘अम्मा’ को अंतिम विदाई देने उमड़ा पूरा तमिलनाड़ु, देखें लाइव अपडेट !

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के निधन के बाद पूरा देश गम में डूब हुआ …

Advertisment ad adsense adlogger