Home / Political / दिल्ली बीजेपी ऑफिस में लगे चाईनीज झालर, ये कैसा Make In India

दिल्ली बीजेपी ऑफिस में लगे चाईनीज झालर, ये कैसा Make In India

img-20161028-wa0018
आजकल बीजेपी और उससे जुड़े कई संगठन देश भर में लोगों से चीन के निर्मित सामानों के बहिष्कार की अपील कर रहे हैं।इसको लेकर देश भर के विभिन्न शहरों में बीजेपी और इससे जुड़े संगठनों के कार्यकर्ताओं ने रैली निकाल कर लोगों को इसके बारे में जागरूक भी किया ।लोगों से अपील की गयी की वो दिवाली के इस मौसम में चायनिज लाइट की जगह देश में कुम्हारों द्वारा निर्मित दिए खरीदें, ताकि इन गरीबों के घरों में भी दिवाली मने।

ये अपील सुनने में बहुत अच्छी लगती है,एकदम राष्ट्रवादी टाइप!लिहाजा आज के इस दौर में जब सभी को अपनी देशभक्ति साबित करनी पर रही है,तो आम लोगों ने भी इसका समर्थन किया और कुछ हद तक चाइनीज लाइट का बहिष्कार किया।इससे चीन भी बौखलाया और उसने धमकी दी की इससे दोनों देशों के सम्बन्धों पर असर पड़ेगा।
लेकिन कहते हैं न की दूसरों को बदलने से पहले आप को खुद को बदलना चाहिए,तभी दुनिया आपका अनुशरण करेगी।नवोदय टाइम्स के पत्रकार सूरज सिंह ने एक ट्वीट कर ये जानकारी दी की बीजेपी के कार्यालय पर चीनी झालरों से रौशनी करने की तैयारी है।

आदमी पार्टी के नेता अंकित लाल ने बीजेपी समर्थकों से अपने कार्यालय पर प्रदर्शन करने की अपील की है।

अंकित लाल ने ट्वीट के साथ बीजेपी कार्यालय की तस्वीरें भी लगाई हैं। इस ट्वीट के बाद बीजेपी को सोशल मीडिया पर अपने दोहरे रवैये के कारण आलोचना का भी सामना करना पड़ा।लोगों ने कहा कि बीजेपी पहले खुद चाइनीज सामानों का बहिष्कार करे फिर लोगों से इसकी उम्मीद करे।

आपको बता दें कि सिर्फ दिवाली के सामान ही नहीं बल्कि मोदी सरकार की बहुप्रतीक्षित स्टेचू ऑफ़ यूनिटी यानि सरदार पटेल की प्रतिमा भी चीन में ही बन रही है।जिसको लेकर भी लोगों ने सवाल उठाये हैं कि जब देश की एकता के प्रतीक महापुरुष भी मेड इन चाइना होंगे तो बाकी चीजों का क्या कहना।हालाँकि सूरज सिंह के इस खुलासे पर अभी तक बीजेपी का कोई जवाब नहीं आया है।और उन्होंने अब तक इसको न स्वीकार किया है न इसका खंडन किया है।

Comments

About Akshay Anand

mm
Akshay Anand write about the Political category at thenachiketa

Check Also

img-20161117-wa0022

केजरीवाल और ममता ने किस बात पर दी मोदी को अंतिम चेतावनी!जानें पूरी खबर।

नोटबन्दी के बाद जहाँ एक तरफ देश बैंक के बाहर लाइन में लगा है तो …

Advertisment ad adsense adlogger