Home / Others / बेटी बचाओ की बात करने वाली लड़की ने की आत्महत्या,वजह जानकर मोदी भी हो जायेंगे दुःखी

बेटी बचाओ की बात करने वाली लड़की ने की आत्महत्या,वजह जानकर मोदी भी हो जायेंगे दुःखी

suicide
गुजरात के जूनागढ़ से एक दर्दनाक खबर सामने आयी है।दबंगों से परेशान होकर राधिका नाम की एक लड़की ने आत्महत्या कर ली है।बताया जाता है लड़की के साथ इलाके के कुछ दबंगों ने छेड़ छाड़ की थी,जिसकी शिकायत राधिका ने पुलिस से की थी।लेकिन आरोपियों के रसूख के कारण पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की और हाथ पर हाथ धरे बैठी रही।साथ ही दबंगों के द्वारा राधिका पर केस उठाने का भी दवाब था।इन्हीं कारणों से वो परेशान थी और ये दवाब बर्दाश्त नहीं कर पायी और उसने अपनी इहलीला समाप्त कर ली।घटना की सूचना पुलिस को दे दी गयी है,पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले लिया है तथा उसे पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

राधिका के पिता का कहना है कि एक राजनैतिक परिवार का लड़का उसे परेशान करता था।वो यह चाहता था कि राधिका उसके साथ में रिलेशन में आ जाये।पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई न होने पर राधिका ने एसिड पीकर अपनी जान दे दी।

images-5
राधिका की मौत से सभी को सदमा इसलिए भी लगा है क्योंकि राधिका ही वो लड़की थी जिसने अपनी बहन देवांशी के साथ 2013 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री और अब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच से ‘बेटी बचाओ’ विषय पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया था और देवांशी ने इस मंच से भाषण दिया था।नरेंद्र मोदी ने दोनों बहनों के काम की तारीफ की थी।नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद इस बात को एक योजना का रूप दे दिया और खुद लोगों से अपील की ,बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओ।इसको लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए मोदी ने कई जगह सभाएं भी की।अब सवाल उठ रहे हैं कि जो लड़की बेटी बचाओ की बात करती थी ,वो सिस्टम से इतनी तंग आ गयी की खुद की जिंदगी ही समाप्त कर ली ?उसके जानने वाले बताते हैं की राधिका इतनी जल्दी हार मानने वालों में नहीं थी,मतलब ये साफ है कि दबंगों के रसूख से वो तंग आ चुकी थी और उसकी उम्मीद की किरण पुलिस से भी जब उसे न्याय नहीं मिलातब उसने हारकर ये फैसला उठाया।अब जूनागढ़ के कलेक्टर कह रहे हैं कि इस मामले में दोशी पुलिस कर्मियों पर अवश्य कार्रवाई होगी।पर सवाल तो फिर भी जस का तस है कि अब पुलिस वालों पर कार्रवाई करने से क्या राधिका वापस आ जायेगी।सरकारें ऐसा सिस्टम क्यों नहीं बनाती जिसमें शिकायतों पर समयबद्ध तरीके से कार्रवाई हो और किसी राधिका के साथ ये नौबत ही न आये।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश से गुजरात मॉडल पर बात करके ही वोट लिया था।आज भी गुजरात में उन्हीं की पार्टी की सरकार है।क्या यही है गुजरात मॉडल ,जहाँ बेटी बचाओ की बात करने वाली एक बेटी ही गुंडों से हारकर अपनी जान दे देती है ?

Comments

About Akshay Anand

mm
Akshay Anand write about the Political category at thenachiketa

Check Also

1

नम आँखों से ‘अम्मा’ को अंतिम विदाई देने उमड़ा पूरा तमिलनाड़ु, देखें लाइव अपडेट !

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के निधन के बाद पूरा देश गम में डूब हुआ …

Advertisment ad adsense adlogger