Home / Others / आतंकवादी संगठन सिमी के 8 आतंकवादी जेल तोड़ फरार, क्या किसी बड़ी घटना को देंगे अंजाम

आतंकवादी संगठन सिमी के 8 आतंकवादी जेल तोड़ फरार, क्या किसी बड़ी घटना को देंगे अंजाम

भोपाल सेंट्रल जेल के आठ कैदियों ड्यूटी पर तैनात एक गार्ड की हत्या के बाद रविवार की रात को भाग गए, ।
प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार, कैदियों इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया के प्रतिबंधित आतंकवादी समूह के छात्रों (सिमी) के साथ जुड़े हुए थे।
कैदियों को भी अपने जेल ब्रेक के दौरान जेल रमाकांत के हेड कांस्टेबल की मौत हो गई।

bhopal3_1477880854

रिपोर्टों के अनुसार, सभी आठ कैदियों सेंट्रल जेल के बी ब्लॉक में रखा गया था।

  • बताया जा रहा है कि रविवार-सोमवार की रात 2-3 बजे के बीच आतंकी भागे।
  • पहले हेड गार्ड रमाशंकर सिंह की हत्या कर दी।
  • फ़िल्मी अंदाज में जेल में ओढने के लिए मिली चादर की रस्सी के सहारे दीवार फांदी
  • इसमें से कुछ आतंकी वे भी हैं जो 2013 में खंडवा जेल से भागे थे। जिन्हें बाद में पकड़ लिया गया था

इससे पहले कब इसी जेल से फरार हुए थे सिमी के आतंकी

  • अक्टूबर 2013 में खंडवा जेल से सिमी के छह आतंकी अबू फैजल खान, एजाजुद्दीन अजीजुद्दीन, असलम अय्यूब, अमजद, जाकिर, शेख मेहबूब और आबिद मिर्जा फरार हो गए थे।
  • आबिद को कुछ ही देर बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।
  • अबू फैजल, इरफान नागौरी और खालिद अहमद को एटीएस ने 25 दिसंबर 2013 को सेंधवा पठार के पास से मुठभेड़ के दौरान के गिरफ्तार किया था।
  • इस बार भी आतंकी मध्य प्रदेश की जेल से फरार हुए हैं।

भोपाल जेल की वेबसाइट पर दी गई भोपाल जेल की कुछ उपलब्धिया कुछ इस तरह है

केन्द्रीय जेल भोपाल एवं जेल विभाग मण्प्रण् के लिये यह गौरवशाली उपलब्धि थी कि देश में प्रथम बार इस जेल के उच्च स्तरीय प्रबंधन एवं कुशल संचालन के आधार पर नार्वे स्थित अन्तर्राष्ट्रीय मानक संस्था क्वालीटेट वेरीटास क्वालिटी एश्योरेंस द्वारा इस जेल को आई एस ओ 9001.2000 के मानक से दिनांक 22 जून 2004 को प्रमाणित किया गया था।

आई एस ओ 14001.2004 प्रमाणन रू. अन्तर्राष्ट्रीय मानक संस्था क्वालीटेट वेरीटास क्वालिटी एश्योरेंस संस्था के प्रतिनिधियों द्वारा इस जेल का सर्वेक्षण कर प्रबंधन द्वारा सामाजिक वानिकीए पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अपनाये जा रहे मानदण्डों को दृष्टिगत रखते हुए इस जेल को बेहतर पर्यावरण प्रबंधन हेतु आई एस ओ  14001.2004 के प्रमाणन से नवाज़ा गया हैए यह हमारा सौभाग्य है कि इस जेल को देश में प्रथम बार दो आई एस ओ प्रमाण पत्र प्राप्त हुए।

अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है।

bhopal-jail

Comments

About Jitender Yadav

Check Also

मोदी जी की रैली में विरोध करने पर वृद्ध महिला का सर फोड़ा |

  प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान पुलिस का गैरजिम्मेदाराना रवैया सामने आया है मीडिया में …

Advertisment ad adsense adlogger