Home / Others / 35 साल तक की सरकारी सेवा, रिटायरमेंट के बाद सरकार वापस मांग रही सारा वेतन

35 साल तक की सरकारी सेवा, रिटायरमेंट के बाद सरकार वापस मांग रही सारा वेतन

मनोज कुमार सिंह, रांची। पैंतीस साल तक नौकरी करने के बाद सेवानिवृत्ति लाभ और पेंशन के लिए जब विश्वनाथ दास ने प्रयास शुरू किया तो उन्‍हें बताया गया कि उनकी नियुक्ति ही गलत तरीके से हुई थी, इसलिए 35 साल तक मिले वेतन और लाभ की रिकवरी की जाएगी। जिला प्रशासन ने उन्हें सेवानिवृत्ति लाभ देने की बजाय उनसे ही पैसे की वसूली करने का आदेश जारी कर दिया है।

1976 में हुई थी नियुक्ति

झारखंड के जामताड़ा जिले के गायछद गांव के रहने वाले विश्वनाथ दास की 19 जून, 1976 में शिक्षक के रूप में नियुक्ति हुई थी। विश्वनाथ दास ने लगातार 35 वर्षों तक शिक्षक के रूप में अपनी सेवा दी। इसके बाद 31 दिसंबर, 2011 को वे सेवानिवृत्त हो गए। दो साल तक वे सेवानिवृत्ति लाभ और पेंशन के लिए कार्यालय का चक्कर लगाते रहे। लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। थक हार कर उन्होंने हाई कोर्ट की शरण ली। हाई कोर्ट में सुनवाई के बाद जिला प्रशासन को सेवानिवृत्ति के मामले में निर्णय लेने का निर्देश देते हुए याचिका निष्पादित कर दी।

Comments

About Sudhir

Check Also

निगम चुनाव में कांग्रेस, इनलो को पछाड़ AAP बनी हरियाणा की दूसरी बड़ी पार्टी।

कल गुरुग्राम नगर निगम चुनाव के नतीजों ने हरियाणा की राजनीति में हलचल मचा दी …

Advertisment ad adsense adlogger